Facial karne ke fayde |Facial benefits in hindi

facial karne ke fayde
facial karne ke fayde

Facial karne ke fayde

Hello Friends ! कैसे है आप ? चलिए आज आपसे एक प्रश्न (question) पूछती हूँ। आपके चेहरे की त्वचा (skin) कैसी है। क्या यह कोमल, बेदाग और चमकदार (glowing) है ? अगर आपकी त्वचा (skin) ऐसी है तो आप भाग्यवान है। परन्तु यदि आपकी त्वचा (skin) ऐसी नहीं है – बल्कि रूखी रूखी है , महीन लकीरे (fine lines) आने लगी है या फिर आ चुकी है , आप अपनी त्वचा (skin) की देखभाल (care) भी करते है परन्तु फिर भी कोई खास फर्क नहीं पड़ रहा है तो तो मेरे प्यारे दोस्तों , आपकी त्वचा (skin) को एक विशेष देखभाल (special care) की जरूरत है और इस विशेष देखभाल (special care)का सबसे बेहतरीन तरीका है फेशियल (FACIAL)

जी हां , मै फेशियल (Facial) की ही बात कर रही हूँ। अब आप मुझसे यह पूछेंगे : क्यों फेशियल (Facial) की क्या जरूरत है ? हम फेशियल (Facial) पर हर महीने पैसे क्यों खर्चे ? और फेशियल (Facial) आपकी त्वचा (skin) को कैसे बेहतर बना सकता है ?

तो आपकी इस बात का मै जवाब (answer) देना चाहूंगी की वास्तव में फेशियल (Facial) आपकी त्वचा (skin) के लिए एक full treatment है , जिसका आपकी त्वचा (skin) के लिए बहुत फायदे है , आइए जानते है – Facial benefits in hindi

Facial karne ke fayde

1. त्वचा की सफाई (Deep Cleansing )

बाहर की धूल मिटटी , तेज धूप और प्रदूषण (pollution) के कारन त्वचा(skin) बेजान हो जाती है, अपनी चमक (glow) और रंगत खोने लगती है। परन्तु जब हम फेशियल (facial) करवाते है तो इसका पहला step है : त्वचा की सफाई , टोनिंग (toning) और स्क्रबिंग(scrubbing) । ये सब करने से त्वचा (skin) की गहराई से सफाई (cleaning) हो जाती है जिसे डीप क्लींजिंग (deep cleansing ) भी कहा जाता है। यह डीप क्लींजिंग (deep cleansing ) केवल और केवल फेशियल (facial) से ही सम्भव है। डीप क्लींजिंग (deep cleansing ) से और भाप देने (steam) से त्वचा के रोम छिद्र (skin pores) भी साफ़ हो जाते है और जब रोम छिद्र (skin pores) साफ हो जाते है तो चेहरे (face) पर लगाई गयी क्रीम अथवा moisturizer का फायदा पहले से कहीं ज्यादा होता है।

Read also : हमेशा जवान रहने के उपाय

2. त्वचा की एंटी एजिंग (Anti Ageing)

facial karane ke fayde
facial

Facial karne ke fayde – जैसे जैसे उम्र बढ़ती है तो इसका प्रभाव सबसे पहले चेहरे की त्वचा (skin) पर आता है। माथे पर फाइन लाइन्स (fine lines) , आँखों के नीचे काले घेरे (dark circles) , आँखों के आसपास झुर्रिया (wrinkles) आदि। त्वचा (skin) रूखी हो जाती है और अपनी चमक (glow) खोने लगती है। इसलिए बढ़ती उम्र के साथ , त्वचा (skin) को जरूरत है एक विशेष देखभाल (special care) की। फेशियल (facial) के दौरान जब चेहरे की मसाज की जाती है तो त्वचा (skin) की कोशिकाओं का पुर्नजन्म होता है , त्वचा(skin) में मौजूद कोलेजन का नया विकास होता है , जो त्वचा(skin) के लिए एंटी एजिंग (Anti Ageing) का काम करता है। नियमित रूप से फेशियल (facial) करवाने से त्वचा (skin) पर आयी फाइन लाइन्स (fine lines) धीरे धीरे कम होने लगती है , ढीली त्वचा (skin) में कसाव (tight) आने लगता है और आप पाते है एक जवान त्वचा (young skin)।

Read also : Immunity पॉवर कैसे बढ़ाये

3. रक्त प्रवाह का बढ़ना :

फेशियल (facial) के दौरान की जाने वाली मसाज (Massage) एक महत्वपूर्ण रोल (important role) अदा करती है। यह मसाज (Massage) पहले जेल (Gel) से और फिर क्रीम से की जाती है। मसाज (Massage) लगभग 15 मिनट तक की जाती है। इस मसाज (Massage) से त्वचा (skin) में रक्त का प्रवाह (blood circulation) बढ़ता है , त्वचा (skin) को भरपूर मात्रा में ऑक्सीजन (oxygen) और पोषक तत्व मिलते है जिससे हो जाती है त्वचा चमकदार (glowing) और फ्रेश (fresh) ।

4 . बेदाग त्वचा :

Facial karne ke fayde – समय के साथ साथ त्वचा (skin) पर कई प्रकार के दाग (spots) पड़ने लगते है। ये दाग (spots) इतने जिद्दी होते है की हमारे कई प्रकार के यत्न करने पर भी नहीं जाते। परन्तु जब हम किसी अच्छे ब्यूटी पार्लर (Beauty parlor) में किसी ब्यूटी एक्सपर्ट (Beauty expert) से फेशियल (facial) करवाते है तो वे दाग (spots) कम करने के लिए त्वचा (skin) पर कुछ ऐसे products का इस्तेमाल करते है जिससे त्वचा के दाग धब्बे (spots) कम होने लगते है। उदाहरण के लिए मुंहासों (pimples) के दाग (spots) कम करने के लिए सैलिसिलिक एसिड का उपयोग किया जाता है जो इन दागों (spots) को धीरे धीरे कम कर देता है और आप पाते है एक बेदाग त्वचा (flawless skin)।

Read also : ग्लोइंग स्किन के उपाय

5. ब्लैकहेड्स का निकालना :

अक्सर देखा गया है की चेहरे (face) पर नाक के ऊपर और उसके आस पास ब्लैकहेड्स (blackheads)  और व्हाइटहेड्स (whiteheads) बनने लगते है।  यदि हम घर पर इन ब्लैकहेड्स (blackheads)  को निकालने की कोशिश करते भी है तो कोई फायदा नहीं होता।  परन्तु फेशियल (facial) करते समय ब्यूटी एक्सपर्ट (beauty expert)  एक्सट्रैक्शन टूल की मदद से इन जिद्दी ब्लैकहेड्स (blackheads)  और व्हाइटहेड्स (whiteheads)  को पूरी तरह आराम से निकाल देते है जिससे आपकी त्वचा का खुरदरापन कम हो जाता है और त्वचा (skin) हो जाती है सॉफ्ट (soft) और मुलायम। 

6. डार्क सर्कल्स का कम होना :

Facial karne ke fayde
Facial karne ke fayde

आँखों के आस पास की त्वचा (skin) काफी नाजुक (delicate) होती है इसलिए उम्र का प्रभाव (age effect)  भी सबसे पहले वहीँ पड़ता है।  और आँखों के नीचे बनने लगते है डार्क सर्कल्स (dark circles)  और सूजन जिसे आई बैग्स भी कहा जाता है , आँखों के कोनो पर महीन लकीरे (fine lines) आ जाती है जिसे crow feet भी कहा जाता है।  एक ब्यूटी एक्सपर्ट (beauty expert) आपके चेहरे के इस सवेंदनशील area के बारे में अच्छे से जानती है।  इसलिए वह करती है स्पेशल आई क्रीम (special eye cream) से धीरे धीरे मसाज।  और फेस पैक (face pack)  लगाने के दौरान आपकी आँखों पर लगाती है गुलाब जल (rose water) में भीगी कॉटन (cotton) या खीरे की स्लाइस , जिससे आपकी आँखों (eyes) को आराम मिलता है और नतीजा होता है नियमित फेशियल (regular facial) करवाने से ये डार्क सर्कल्स (dark circles)   धीरे धीरे कम हो जाते है जिससे आपका चेहरा (face) पहले से ज्यादा जवान (young) लगने लगता है। (Facial karne ke fayde)

Read also : Summer Skin care tips in hindi

7. डेड स्किन (Dead Skin) का निकलना

फेशियल (facial) में स्क्रब (scrub) से आपके चेहरे (face) की धीरे धीरे अच्छी तरह से मसाज (Massage) की जाती है जिससे आपके चेहरे (face) की डेड स्किन (Dead Skin) बाहर निकलती है और आपकी त्वचा की रंगत में निखार आता है।

8. रूखापन दूर होता है

फेशियल (facial) में पहले चेहरे (face) की अच्छे से क्लीनिंग (cleaning) की जाती है और फिर क्रीम से मसाज की जाती है। मसाज के दौरान ब्यूटी एक्सपर्ट (beauty expert) आपके चेहरे (face) के प्रेशर पॉइंट्स (pressure points) को दबाती है जिससे क्रीम (cream) आपकी त्वचा (skin) के अंदर तक समा जाती है और परिणाम स्वरुप आपकी त्वचा का रूखापन (dryness) दूर होता है और जब रूखापन (dryness) दूर होता है तो चेहरे पर आने वाली झुर्रियां (wrinkles) भी धीरे धीरे कम होने लगती है।

Read also : Garmi me Makeup karne ka tarika

9. त्वचा का रंग निखार :

FACIAL KARANE KE FAYDE
FACIAL

समय के साथ शरीर में हार्मोनल परिवर्तन (hormonal changes) आते है जिसका सीधा असर (effect) आपके चेहरे (face) पर पड़ता है , नतीजा आपकी त्वचा(skin) में मेलानिन ज्यादा मात्रा में बनने लगता है। वहीँ तेज धूप की किरणें भी आपकी त्वचा (skin) को काला बना देती है जिसे टैनिंग (tanning) भी कहा जाता है। फेशियल (facial) में आपकी त्वचा (skin) की डीप क्लींजिंग (deep cleansing) , मसाज और फेस पैक (face pack) लगाया जाता है। इन सभी procedure से आपकी त्वचा (skin) की टैनिंग (tanning) बाहर निकलती है जिससे त्वचा (skin) का रंग निखर जाता है। (facial karne ke fayde)

10. आराम मिलना :

फेशियल (facial) के दौरान ब्यूटी एक्सपर्ट (beauty expert) आपको लिटा कर आपके चेहरे (face) की अच्छे से मसाज (Massage) करती है , यह मसाज (Massage) केवल आपके चेहरे (face) की ही नहीं बल्कि आपकी गर्दन (neck) पर और आपकी पीठ पर भी करती है। मसाज (Massage) करते हुए एक्यूप्रेशर पॉइंट्स (pressure points) को प्रेस किया जाता है जिससे बॉडी रिलैक्स (body relax) होती है, जो स्ट्रेस (stress) को कम करता है। और आपके पुरे शरीर (body) को आराम (rest) मिलता है।

Read also : प्राणायाम का महत्व 

My dear friends अब तो आप सबको फेशिअल(facial) से होने वाले इन अनमोल फायदों के बारे में मालूम हो चूका है। तो अब देर किस बात की , अब जल्दी से अपना फेशियल (facial) करवाए। भाई थोड़ा टाइम तो अपने लिए भी निकालना चाहिए ना। महीने में एक बार फेशियल (facial) आप रेगुलर (regular) करवाएंगे तो आप खुद अपनी स्किन (skin) में बहुत फर्क महसूस करेंगी। लेकिन ध्यान दीजिये यदि आपको किसी चीज से स्किन ऐलर्जी (skin allergy) है तो अपने ब्यूटी एक्सपर्ट (beauty expert) को फेशियल (facial) शुरू करने से पहले ही बता दें। OK बहुत बहुत धन्यवाद , खुश रहिये , स्वस्थ रहिये !

Facial karne ke Fayde

ज्योति गोयनका

Leave a Comment