Warning: preg_match_all(): Compilation failed: unmatched parentheses at offset 253 in /home/onkarlog/public_html/wp-content/plugins/seo-by-rank-math/includes/replace-variables/class-post-variables.php on line 317

Warning: preg_match_all(): Compilation failed: unmatched parentheses at offset 253 in /home/onkarlog/public_html/wp-content/plugins/seo-by-rank-math/includes/replace-variables/class-post-variables.php on line 317
2019 मेँ कब है जन्माष्टमी 23 अगस्त या 24 अगस्त / (2019 Janmasthmi) - Jyoti Upasana
Warning: preg_match_all(): Compilation failed: unmatched parentheses at offset 253 in /home/onkarlog/public_html/wp-content/plugins/seo-by-rank-math/includes/replace-variables/class-post-variables.php on line 317

Warning: preg_match_all(): Compilation failed: unmatched parentheses at offset 253 in /home/onkarlog/public_html/wp-content/plugins/seo-by-rank-math/includes/replace-variables/class-post-variables.php on line 317

2019 मेँ कब है जन्माष्टमी 23 अगस्त या 24 अगस्त / (2019 Janmasthmi)

janmasthmi 2019
Janmasthmi

जन्माष्टमी (Janmashtami 2019)

लगभग 5243 वर्ष पूर्व, कंस जैसे दुराचारी राक्षस का वध करने के लिए तथा अधर्म का नाश करने के लिए श्री हरि ने भादव मास के कृष्ण पक्ष की अष्टमी को इस धरती पर कृष्ण रूप में अवतार लिया | इसी दिन को भगवान् श्री कृष्ण के जन्म दिवस के रूप में मनाया जाता है, जिसे जन्माष्टमी कहा जाता है | यह जन्माष्टमी का पर्व केवल भारतवर्ष में ही नहीं बल्कि विदेशो में भी पूरी भक्ति और आस्था के साथ मनाया जाता है |

2019 मेँ कब है जन्माष्टमी (Janmashtami) 23 अगस्त या 24 अगस्त (23rd August or 24th August)(Janmasthmi date in 2019)

सन 2019 में जन्माष्टमी 23 अगस्त को है या 24 अगस्त को, इस विषय पर कुछ confusions है | कुछ स्थानों पर जन्माष्टमी 23 अगस्त को मनाई जा रही है और कुछ मंदिरो में 24 अगस्त को मनाई जाएगी | परन्तु मान्यताओं के अनुसार भगवान् श्री कृष्ण का जन्म भादव मास के कृष्ण पक्ष की अष्टमी को हुआ था जो इस वर्ष 23 अगस्त, 2019 को पड़ रही है इसलिए जन्माष्टमी का त्यौहार 23 अगस्त को ही मनाया जाएगा |

janmashtami 2019

कृष्ण जी का भोग

जन्माष्टमी पर नन्हे कान्हा को धनिये की पंजीरी का भोग लगाया जाता है | यह प्रसाद बेहद शुभ माना जाता है और खाने में भी बहुत tasty होता है और बनाने में भी बहुत easy होता है, आइये आज हम जानते है – धनिये की पंजीरी का प्रसाद कैसे बनाया जाता है !!

धनिये की पंजीरी की (Recipe)

समाग्री (Ingredients)

धनिया powder (धनिया पिसा हुआ)- 100 gram
देसी घी – 3 table spoon
मखाने – 1 /2 cup
पिसी चीनी या बूरा – 1 /2 cup
सूखा नारियल (Coconut) – 1 /2 cup (कद्दूकस किया हुआ )
काजू – 8 -10 बारीक़ कटे हुए
बादाम -8 -10 बारीक़ कटे हुए
चिरोंजी – 1 बड़ा चम्मच

धनिया पंजीरी बनाने की विधि :

एक कड़ाही में 1 table spoon घी डाले और इसमें धनिया पाउडर 4 या 5 minute तक अच्छे से भूने | जब धनिया भूनने की अच्छी खुशबू आने लगे तो गैस बंद कर दे |
अब मसाले को थोड़े से घी में deep fry कर ले | अब इस मसाले को बेलन से अथवा mixi में थोड़ा दरदरा कर ले |
काजू और बादाम को बारीक़ काट ले |
एक bowl में भुना हुआ धनिया powder, मखाने, बूरा, dry fruits डाल कर अच्छे से mix कर ले |
कान्हा जी के लिए tasty धनिये की पंजीरी ready है, पहले इसका भोग कान्हा जी को लगाए और फिर सबको प्रसाद बाँटे |

अंत में मै आप सबको जन्माष्टमी के त्यौहार की हार्दिक शुभकामनाएं देती हूँ | Happy Janmasthmi

धन्यवाद
ज्योति गोयनका

हरे कृष्णा हरे कृष्णा हरे कृष्णा हरे कृष्णा हरे कृष्णा हरे कृष्णा

Leave a Comment