सात्विक भोजन क्या है और सात्विक भोजन के लाभ / Satvik bhojan ke labh in hindi

सात्विक भोजन / Satvik bhojan ke labh in hindi

मुझे गर्व है अपनी भारतीय संस्कृति (Indian culture) पर, अपनी भारतीय शैली पर और अपनी भारतीय पद्धति पर । आज के इस मशीनी और आधुनिक युग (Modern life) में जहाँ सब कुछ digital हो चुका है , वहां यदि हम भारतीय शैली (indian culture) को अपनाए तो मैं challenge के साथ कह सकती हूँ, की हमारी life और हमारी health दोनों ही बहुत better हो जायेंगे।

Satvik bhojan ke labh
Kathak dance

हमारे प्राचीन ऋषि मुनियो ने भोजन में सात्विक भोजन (Satvik food) को बहुत importance दी है । वे स्वयं भी सात्विक भोजन (satvik food) ही ग्रहण करते थे और वे सब ऊर्जायुक्त, बलवान, शांत, अध्यात्मिक और तीव्र बुद्धि वाले थे । उनके मस्तक पर सदा एक अलौकिक तेज (glow) रहता था । क्या आप जानते है ? इस का क्या कारण था – इसका मुख्य कारण था – उनका भोजन – उनका आहार (diet) । वे सब शुद्ध और सात्विक भोजन (Satvik food) ही ग्रहण करते थे।

Read story : माँ वैष्णो देवी के चमत्कार की सत्य कथा

Read also story : ईश्वर पर विश्वास रखे

तो सर्वप्रथम हम यह जानेगे की सात्विक भोजन (Satvik food) क्या है ?
सात्विक भोजन : वह भोजन जो पूर्ण रूप से शाकाहारी (vegetarian) हो, अथार्त जो बिना प्याज -लहसुन के बनाया गया हो, जिसमे सत्व गुण की प्रधानता हो, जो सादा, शुद्ध और हल्का हो, पचने में आसान हो, जो हमारे शरीर की ग्रंथियों से उत्पन्न रस से बिना किसी अधिक तकलीफ के पच (digest) जाये , जो भोजन ताजा (fresh) पका हुआ, रसीला , पोषक तत्वों से भरपूर तथा स्वादिष्ट हो, वही भोजन सात्विक भोजन (Satvik food) कहलाता है ।

उदाहरण : दूध, दलिया, आटा, जौ, दाल, फल, हरी सब्जियां, फलो का रस, छाछ आदि

satvik food

हमारे प्राचीन ऋषि मुनियों ने सात्विक भोजन (Satvik food) के कई लाभ (benefits) बताए है । ये लाभ इस प्रकार है :

सात्विक भोजन के लाभ (Benefits of Satvik food) Satvik bhojan ke labh in hindi

1. पौष्टिक :

सात्विक भोजन शुद्ध, स्वच्छ और पौष्टिक गुणों से भरपूर होता है, यह भोजन कम मसाले और तेल (oil) में बनाया जाता है इसलिए यह हमारी health को improve करता है। High B.P और ब्लड शुगर (blood sugar) के patients के लिए सात्विक भोजन (sativk food) एक अच्छा विकल्प है।

Read also : कैंसर होने के क्या कारण है

2. पचने में आसान:

जहाँ तामसिक भोजन पाचन तंत्र (Digestive system) पर जोर डालकर शरीर के बल को कम करता है, वहीँ सात्विक भोजन (satvik food) सरलता से पच (digest) जाता है । कहते है की हमारे शरीर के आधे से ज्यादा रोग पेट और पाचन तंत्र के बिगड़ने के कारण होते है । तामसिक भोजन का ज्यादा सेवन पाचनतंत्र पर विपरीत प्रभाव डालता है, वहीँ सात्विक भोजन आसानी से पच कर पेट और पाचन प्रणाली (Digestive system) को आराम देता है, जिससे स्वास्थ्य (health) की वृद्धि होती है ।

3. मानसिक शांति :

आयुर्वेद के अनुसार सात्विक भोजन (Satvik food) मन और बुद्धि को शांत करता है ।जिस प्रकार एक सी प्रवृति वाली वस्तुएँ परस्पर प्रतिबिम्बित होती है, उसी प्रकार सात्विक भोजन भी शांतिपूर्ण होता है । सात्विक भोजन (Satvik food) , आयुर्वेद के प्राचीन नियमो पर आधारित है, जो सामान्य और पांरपरिक विधियों से तैयार किया जाता है । जिसके सेवन से क्रोध, आलस्य दूर भागता है तथा मन- मस्तिष्क पूर्ण रूप से शांत होता है ।

Read also : प्राणायाम का महत्व इन हिंदी

(Satvik bhojan ke labh in hindi)

4. सौंदर्य वृद्दि

सात्विक भोजन (Satvik food ) सूंदर और आकर्षक तन प्रदान करता है । सात्विक आहार जैसे फल, हरी सब्जियाँ (green vegetables) दूध के सेवन से skin में एक अलग ही glow आता है और बाल (hair) भी चमकदार हो जाते है ।

Read also : ग्लोइंग स्किन के उपाय

5. निर्मल बुद्धि :

शुद्ध सात्विक भोजन (Satvik food) से अंत:करण की शुद्धि होती है, जिस कारण बुद्धि निर्मल होती है और बुद्धि निर्मल हो जाने से आपका व्यवहार, आपका चरित्र (character) सब कुछ पवित्र और निर्मल हो जाता है, अथार्त जैसा भोजन वैसा ही मन ।

6. रोगो से दूर रखता है :

आज कोरोना वायरस (Corona Virus) जब पूरी दुनिया (World) में एक महामारी के रूप में फ़ैल चूका है तो ऐसे बुरे समय ने हमे फिर से याद दिलाया है की मीट मास (तामसिक भोजन ) हमारे लिए कितने ज्यादा घातक है। और हमारा भारतीय शुद्ध शाकाहारी भोजन ही सबसे उत्तम है। हम लाखो भारतीयों (Indian) ने कुम्भ में एक साथ स्नान किया , एक साथ लाखों की तादाद में तीर्थ यात्रा की, फिर भी हम किसी भी प्रकार के वायरस (virus) के शिकार नहीं हुए , इसका एक ही केवल एक ही कारण है की हम भारतीय शाकाहारी भोजन (satvik food) करते है , हम दूसरे देश के लोगो की तरह जीव जन्तु नहीं खाते। दूसरे शब्दों में सात्विक भोजन शरीर को सभी प्रकार के रोगो से दूर रखता है।

अंत में दोस्तों , सार (summry) यही निकलता है की सात्विक भोजन शारीरिक स्वास्थ्य (health) और सुंदरता (beauty) को बढ़ाने के साथ साथ मन और आत्मा (soul) दोनों को पवित्र कर देता है, यह कोरोना वायरस, bird flu जैसी किसी भी प्रकार की महामारी को जन्म नहीं देता। इसलिए आप भी शुद्ध शाकाहारी सात्विक भोजन (satvik food) का ही सेवन करे । अपनी भारतीय संस्कृति को ही अपनाये। सात्विक भोजन ही हमारी भारतीय संस्कृति है और हमारे भारतीय होने की पहचान है , जय भारत , जय हिन्द

listen my bhajan : अच्चुतम केशवं कृष्ण दामोदरं,

(Satvik bhojan ke labh in hindi)

आपको यह article कैसा लगा, मुझे Comment box में लिखना ना भूले

दोस्तों मेरा एक youtube channel है जिस पर मै devotional videos बनाती हूँ। अपनी इन videos के द्वारा मै हमारी society में धर्म प्रचार करने का एक छोटा सा प्रयास कर रही हूँ। side पर मेरे इसी youtube channel का sign है, इस पर click कर आप मेरे चैनल पर जा कर मेरी videos को देखे और इस विषय में आपकी कोई भी suggestion हो तो वो मुझे अवश्य लिखे।

धन्यवाद

ज्योति गोयनका

2 thoughts on “सात्विक भोजन क्या है और सात्विक भोजन के लाभ / Satvik bhojan ke labh in hindi”

Leave a Comment