Shradh 2019 ki dates in hindi /श्राद्ध 2019 की dates

Shradh 2019 ki dates

हिन्दू धर्म में श्राद्ध पक्ष अथार्त पितृ पक्ष की विशेष महिमा है | श्राद्ध को दूसरे शब्दों में कनागत भी कहा जाता है |श्राद्ध पक्ष में पितरो का विधि विधान से श्राद्ध किया जाता है, किसी योग्य ब्राह्मण के द्वारा तर्पण करवाया जाता है तथा ब्राह्मण को भोजन, वस्त्र और दक्षिणा दी जाती है | ऐसी मान्यता है की विधि पूर्वक श्राद्ध सम्पन करवाने से पितरो की आत्माएं प्रसन्न होती है और अपनी संतान को आशीर्वाद देती हैं |

शिवजी को प्रसन्न करने के लिए करें प्रदोष व्रत

यही कारण है की हिन्दू धर्म में श्राद्ध पक्ष में श्राद्ध करवाना अनिवार्य माना गया है | ऐसी मान्यता है की अपने पूर्वजो का कर्ज केवल श्राद्ध के द्वारा ही चुकाया जा सकता है | गरुड़ पुराण के अनुसार हमारे पितर, श्राद्ध कर्म से संतुष्ट हो कर अपनी संतान के लिए आयु, पुत्र, यश, स्वर्ग, कीर्ति, बल, सुख और धन धान्य देते है |

जिन परिवार के लोग पितृ पक्ष के दौरान पितरों के नाम से अन्न जल दान नहीं करते। श्राद्ध कर्म नहीं करते हैं उनके पितर भूखे-प्यासे धरती से लौट जाते हैं इससे परिवार के लोगों को पितृ दोष लगता है। परिणामस्वरूप परिवार में कई प्रकार के कष्ट आते है जैसे धन की कमी, विवाह ना होना, बीमारी, कलह कलेश होना, इत्यादि । इसीलिए श्राद्ध पक्ष में श्राद्ध करना अनिवार्य माना गया है ।

माता लक्ष्मी को पाने के लिए पूजे नारायण को

यह श्राद्ध पक्ष भाद्रपद मास के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा से आरम्भ हो कर कृष्ण पक्ष की अमावस्या तक चलता है और 16 दिन का होता है | वर्ष 2019 में श्राद्ध पक्ष की dates इस प्रकार से है : –

shradh 2019 dates

बुरे समय में प्रयास ना छोड़े 

13 सितंबर,2019 शुक्रवार, प्रोष्ठपदी/पूर्णिमा का श्राद्ध

Shradh 2019 ki dates

14 सितंबर,2019 शनिवार, प्रतिपदा तिथि का श्राद्ध

15 सितंबर,2019 रविवार , द्वितीया तिथि का श्राद्ध

16 सितंबर 2019 सोमवार, तृतीया तिथि का श्राद्ध

17 सितंबर,2019 मंगलवार, चतुर्थी तिथि का श्राद्ध

18 सितंबर,2019 बुधवार , पंचमी तिथि का श्राद्ध

19 सितंबर,2019 बृहस्पतिवार, षष्ठी तिथि का श्राद्ध

20 सितंबर,2019 शुक्रवार, सप्तमी तिथि का श्राद्ध

21 सितंबर,2019 शनिवार, अष्टमी तिथि का श्राद्ध

22 सितंबर,2019 रविवार, नवमी तिथि का श्राद्ध

23 सितंबर,2019 सोमवार, दशमी तिथि का श्राद्ध

24 सितंबर,2019 मंगलवार, एकादशी तिथि का श्राद्ध

25 सितंबर,2019 बुधवार , द्वादशी तिथि/संन्यासियों का श्राद्ध

26 सितंबर,2019 बृहस्पतिवार, त्रयोदशी तिथि का श्राद्ध

27 सितंबर,2019 शुक्रवार, चतुर्दशी का श्राद्ध

28 सितंबर,2019 शनिवार, अमावस्या व सर्वपितृ श्राद्ध

सात्विक भोजन क्या है और सात्विक भोजन के लाभ

श्राद्ध में ब्राह्मण को भोजन करवाना अति आवश्यक है, जो व्यक्ति बिना ब्राह्मण के श्राद्ध कर्म करता है, उसके घर पितर भोजन नहीं करते और श्राप देकर लौट जाते है | जिन पूर्वजों ने हमे जन्म दिया, हमे इस काबिल बनाया, हमारा फ़र्ज़ है की हम श्राद्ध पक्ष में उनका श्राद्ध करवा कर उनकी आत्माओ को तृप्त करें | केवल मृत्यु के बाद ही नहीं, बल्कि उनकी जीवित अवस्था में भी उनका ध्यान रखे, उन्हें अपना समय दे, अपना प्यार दे, जिस दिन हर कोई अपने माता पिता का आदर करना सीख जायेगा उस दिन हमारे देश में वृदाश्रम नाम की कोई चीज नहीं रहेगी | जैसे कर्म करेगा वैसे फल देगा भगवान्

1 thought on “Shradh 2019 ki dates in hindi /श्राद्ध 2019 की dates”

Leave a Comment